सोशल मीडिया से नौकरी में खुलते रास्ते

आज के दौर में सोशल मीडिया काफी पॉपुलर हो गया है। नौकरी खोजने और पाने के मामले में यह अहम भूमिका निभाता है। इसकी पारंपरिकता में काफी बदलाव आया है। अब नियोक्ता लिंकेडीन, फेसबुक और ट्विटर के जरिए टैलेंट को ढूंढने लगे हैं और ऑन लाइन के जरिए बेहतर कर्मचारी भी मिलने लगे हैं। इसका कारण यह है कि युवाओं में ये सोशल नेटवर्किग साइट्स काफी पॉपुलर हैं और वे हमेशा खुद को अपडेट रखना चाहते हैं। ताजा आंकड़े बताते हैं कि करीब 36.6 मिलियन अमेरिकी लोगों का कहना है कि उन्होंने सोशल मीडिया के जरिए नौकरी पाई है। इनमें से 18.4 मिलियन लोगों का कहना था कि उन्हें नई नौकरी फेसबुक के जरिए मिली है, जबकि ट्विटर से नौकरी हासिल करने वालों का आंकड़ा आठ मिलियन तो लिंकेडीन के जरिए नौकरी पाने वालों का आंकड़ा 10.2 मिलियन था।

विशोाज्ञों का कहना है कि नेटवर्किग के जरिए जहां आप किसी के बारे में पूर्व जानकारी प्राप्त कर सकते हैं, वहीं किसी के रिपुटेशन को लेकर सोशल मीडिया के जरिए जानकारी प्राप्त की जा सकती है। फेसबुक, लिंकेडीन और ट्विटर के जरिए कोई भी नियोक्ता संबद्ध व्यक्ति की एक्टिविटी और उसके व्यक्तित्व को आसानी से परख सकता है. हालांकि किसी भी फ्रेशेर के लिए ऑन लाइन नौकरी पाना आसान नहीं है क्योंकि कॉलेज या संस्थान के छात्रों को इसके बारे में अधिक जानकारी नहीं होती है। यही कारण है कि एचआर प्रोफेशनल्स सोशल मीडिया के जरिए मध्य और वरिष्ठ स्तर पर नौकरी के योग्य लोगों की तलाश करते हैं। हालांकि अधिकतर युवा फेसबुक का ज्यादा प्रयोग करते हैं, इसलिए इंट्री लेवल पर एचआर प्रोफेशनल्स फेसबुक को ही अपना जरिया बनाते हैं। वर्तमान में विभिन्न कंपनियों के वरिष्ठ अधिकारी अपने यहां की वैकेंसीज भी इन्हीं साइटों पर डालने लगे हैं। इसलिए यदि आप किसी सोशल नेटवर्किग साइट्स पर अपना एकाउंट खोलने और नौकरी ढूंढने जा रहे हैं तो कुछ बातों का अवश्य ध्यान रखें।

यदि आप सोशल मीडिया में नए हैं तो इसकी मदद लेने का यह बेहतर समय है। इसकी सहायता से आप बेहतर मौके पा सकते हैं। ट्विटर, फेसबुक और लिंकेडीन पर प्रोफाइल बनाने के बाद आप अपने फील्ड के बेहतर लोगों के पास पहुंच सकते हैं। आपका प्रोफाइल आउटस्टेंडिंग होना चाहिए, जिसमें आपकी तस्वीर, आपके काम की जानकारी, पोजिशन के साथ हर मामले में छोटी-छोटी टिप्पणी हो। यदि कुछ लोगों का रिकमंडेशन हो तो उसे भी जरूर शामिल करें। यदि आप कुछ चीजों को सार्वजनिक नहीं करना चाहते हैं तो उसे भूल से भी साइट पर न डालें। उन्हीं मामलों को सार्वजनिक करें, जिस आप चाहते हैं कि भविाय में होने वाले बॉस को उसकी जानकारी हो या फिर वर्तमान और पूर्व बॉस उस मामलों से अवगत हों। जब आप अपना प्रोफाइल बना लें तो लोगों को जोड़ते वक्त इस बात का ख्याल जरूर रखें कि वे प्रोफेशनल हैं या नहीं। आप हमेशा क्वालिटी पर ध्यान दें न कि क्वांटिटी पर क्योंकि अधिक लोगों से संपर्क होने से कोई फायदा नहीं बल्कि फायदा होता है मुट्ठी भर अच्छे और काम के लोगों से संपर्क।

इस बात का ख्याल रखें कि आपक ई-मेल काम कर रहा है। यदि आप जानते हैं कि अमुक कंपनी में कोई काम कर रहा है, तो आप सोशल मीडिया के जरिए उससे जरूर जुड़ें और उसके सामने अपनी बातें जरूर रखें। यदि आप चाहते हैं कि आप इंटरव्यू आसानी से दे सकें इसके लिए आप अपने रिज्यूमे में ट्विटर, फेसबुक प्रोफाइल का भी जिक्र कर सकते हैं। इससे यह होगा कि नियोक्ता आपका प्रोफाइल ऑन लाइन चेक कर सकता है। यदि वह आपके रिज्यूमे में कुछ बेहतर बातें पाता है तो आपका रास्ता खुल सकता है। यदि आप ब्लॉग लिखते हैं तो उसका भी जिक्र जरूर करें।

Loading...
loading...
Comments