अच्छी नौकरी के लिए सकारात्मक सोच जरूरी

अच्छी नौकरी की तलाश हर किसी को होती है। पहले नौकरी आसानी से मिल जाती थी, लेकिन आज काफी प्रयासों के बाद भी एक अच्छी नौकरी मिल पाने की संभावना कम होती है। आज जिनके पास अच्छी नौकरी है,वे अपने आप को सुरक्षित महसूस करते हैं। लेकिन इसमें भी कई लोग खुश नहीं रहते, क्योंकि वे जॉब में अनिश्चितता के भय के कारण वे अगली नौकरी के लिए खुद को दिमागी तौर पर तैयार नहीं कर पाते।

वे हर समय नौकरी को लेकर डर में पड़े रहते हैं जैसे- दूसरी कोई नौकरी न मिलने का डर या नौकरी छूट जाने का डर या फिर अपने लायक काम न मिलने का डर अक्सर कामकाजी लोगों के दिल-दिमाग पर हावी रहता है। लेकिन एक बात हमेशा याद रखें डर आपके अदंर रचनात्मकता को कमजोर बनाता है। ये आपके अंदर छिपि हुई रचनात्मकता को बाहर आने से रोकता है। इसलिए आपको चाहिए कि डर को अपने आप से कोसों दूर रखें और विपरीत परिस्थितियों में भी खुद को तैयार रखें। इस तरह आप आसानी से अपने रास्ते बनाते जाएंगे और आपको सफलता भी मिलती जाएगी।

» हमेशा सकारात्मक सोचे :

बड़ा और सकारात्मक सोचना अच्छी बात है। एक सुनहरे भविाय को निगाह में रखना भी बेहतर होता है। इससे आपको अपने कैरियर में एक दिशा,मतलब और लगाव की भावना महसूस होती है। आप अपने कैरियर में अगला कदम कैसे उठाना चाहते हैं? यह सवाल खुद से करें और उसके जवाब भी खुद से ही लें। इससे आपके अंदर कुछ कर दिखाने का हौसला आएगा। इस बात की चिंता न करें कि आप अमुख काम कैसे करेंगे। अपने सपने को एक निश्चित आकार लेने दें। उसके बाद अपने सपने को साकार करने का रास्ता आपको खुद ही मिल जाएगा।

» रहें अवसरों की तलाश में : 

आज के दौर में हर उद्योग का कोई न कोई पक्ष जोर पकड़े ही रहता है। इसलिए आपका लक्ष्य इंडस्ट्री में उचित मौकों की तलाश करना होना चाहिए। जैसे कौन-सा जॉब आजकल डिमांड में है या कौन सा जॉब एॅसा है,जिसमें आप अपना बेहतर कैरियर बना सकते हैं। एक बार आपको पता चल जाए। कि अमुक इंडस्ट्री लाभ कमा रही है,तो आप उस क्षेत्र के हिसाब से उसमें अधिक शिक्षा,प्रशिक्षण आदि भी ले सकते हैं। इससे आगे चलकर आपको ही फायदा होगा। आज के दौर में व्यक्ति को अपने फील्ड के अलावा भी हर काम में एक्सपर्ट होना बहुत जरूरी है। अग मल्टीटैलेंटेड बने। जीवन में हर काम को बखूबी कर सकते हैं। इसके बाद आपको नौकरी के लिए ज्यादा परेशान होने की जरूरत नहीं है। हार न मानें।

Loading...
loading...
Comments