यहां वाइफ के लिए ग्राहक खोज कर लाते है शौहर

नजफगढ़ दिल्ली में रहने वाला पेरना समुदाय में देह व्यापार पीढ़ियों से चला आ रहा है। यह समुदाय प्रेमनगर और धर्मशाला में बसा हुआ है। यहां पर शादी के नाम पर लड़कियों को बेच दिया जाता है। ससुराल वालों के लिए भी लड़कियां पैसा कमाने का जरिया होती हैं मसलन उन्हें देह व्यापार में उतरना पड़ता है।

यहां नाबालिग लड़कियों से कराई जाती है वेश्यावृत्ति!

चौंकाने वाली बात ये है कि इन लड़कियों या औरतों के लिए ग्राहक कोई और नहीं बल्कि उनका पति ही ढूंढ कर लाता है। समुदाय की लड़कियां चौथी या पांचवी तक पढ़ती हैं। जब तक वे कुछ समझने लायक होती हैं, तब तक शादी के नाम पर उनका सौदा कर दिया जाता है। शादी के बाद ससुराल वाले पहला बच्चा होने के साथ ही लड़कियों से देह व्यापार कराना शुरू कर देते हैं। लड़कियों के लिए ग्राहक तलाशने का काम कोई और नहीं बल्कि उनके पति ही करते हैं। वैसे कुछ एनजीओ इन लड़कियों को इस गंदगी से निकालने के लिए काम कर रहे हैं।

यहां पीढ़ियों से बहुओं के साथ कराई जाती है देह व्यापार

यह समुदाय साल 1964 में राजस्थान से दिल्ली आया था। शुरुआत में तो ये लोग भीख मांग कर गुजारा चलाते थे। लेकिन बाद में ज्यादा पैसे कमाने के चक्कर में देह व्यापार करना शुरू कर दिया। समुदाय की एक लड़की ने बताया कि दिन भर में कम से कम वो पांच ग्राहकों के साथ सोती है। ग्राहकों को खुश करने के बाद वो वापस घर आकर खाना बनाना और बाकी का काम करती है।

Loading...
loading...
Comments